Press "Enter" to skip to content

तुलसी की पत्तियों से दूर करें डेंगू बुखार.

आज कल मौसम बदल रहा है और इस बदलाब के कारण डेंगू,चिकनगुनिया और वायरल फीवर की तरह कई बुखार बहुत तेजी से फ़ैल रहे हैं.इस बुखारों में एक बात कॉमन है इनमें ब्लड के सेल्स गिरने लगते हैं.अगर इन बुखारों का सही समय पर सही इलाज न मिले तो ये जानलेवा हो सकते हैं आपको डॉक्टर की सलाह के अनुसार दवा के साथ साथ कुछ देशी उपचार भी करने चाहिए.

डेंगू के लक्षण.

  1. तेज बुखार आना
  2. मासपेशियों और जोड़ो में तेज दर्द होना
  3. सर दर्द होना
  4. आँखों में दर्द होना
  5. उलटी आना
  6. जी का मचलाना
  7. शरीर पर लाल रंग के चक्कते पड़ना

उपचार.

  1. पपीते के पत्ते.

डेंगू बुखार के कारण शरीर में प्लेट सेल्स की संख्या कम हो जाती है और इन ब्लड सेल्स की संख्या को बढाने के लिए फायदेमंद होता है पपीते के पत्ते ब्लड सेल्स को बढ़ने का काम करते हैं,पपीते के पत्तो को पानी के साथ उबाल कर दिन में दो बार पीना चाहिये इसके पीने से टोकसिंस शरीर के बाहर निकल जाते हैं और इससे बुखार में बहुत फायदा मिलेगा.

२. मैथी के पत्ते.

मैथी के पत्तों का सेवन करना बुखार में बहुत फायदेमंद रहता है और इसके सेवन से बुखार जल्दी उतरता है इसके साथ बुखार से गृहीत मरीज को दर्द से भी बहुत राहत मिलती है और अच्छी नींद भी आती है.मैथी के पत्तो को पीसकर या पानी में भिगोकर आप इसका उपयोग कर सकते हैं.

3. तुलसी के पत्ते.

आप 1 ग्लास पानी लें और उसमें 8 तुलसी की पत्तियां और 4 काली मिर्च उबालें.इस पानी को आप दिन में करीब 2 बार पीयें,इस ड्रिंक का प्रयोग रोज करने से फीवर दूर रहेगा और इन्म्युनिटी बेहतर होगी.

4. हल्दी.

हल्दी में बहुत अच्छे गुण पाए जाते हैं जिसके नियमित सेवन से आप स्वस्थ रह सकते हैं और रात को सोते समय आप हल्दी के दूध का सेवन जरूर करें इससे आप को बुखार से लेकर हर बीमारी से लड़ने में सहायता मिलेगी.

अगर आपको हमारा ये लेख पसंद आया हो तो आप इसे शेयर जरूर करें.

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: